लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र एबं मंत्र

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र एबं मंत्र: इस पोस्ट में, मैंने एक शक्तिशाली और प्रभावशाली श्री गुरु दत्तात्रेय मंत्र का वर्णन किया है, जो धन, संपदा, समृद्धि, और प्रचुरता को प्राप्त करने के लिए लक्ष्मी प्राप्ति हेतु यंत्र में समाहित है। यह मंत्र उन लोगों के लिए अत्यंत उपयुक्त है जो ईमानदारी और प्रेम से अमीर और समृद्ध होना चाहते हैं।

यह मंत्र धन, संपत्ति, और सफलता की प्राप्ति के लिए एक प्रमुख उपाय है जो विशेष रूप से धन संबंधी मामलों में सहायक होता है। इसका प्रयोग करने से व्यक्ति को धन, संपत्ति, और समृद्धि की प्राप्ति में सहायता मिलती है, जो उसके जीवन में स्थिरता और सुख-शांति का स्रोत बनती है।

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र एबं मंत्र

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र एबं मंत्र
लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय यंत्र

यहाँ प्रदर्शित लक्ष्मी प्राप्ति के लिए तैयार किया गया यंत्र तांबे के पत्र पर निर्मित किया जाना चाहिए। यह यंत्र-मंत्र साधना को मंगलवार को शुभ नक्षत्र में करना चाहिए।

लक्ष्मी प्राप्ति हेतु यंत्र एक प्राचीन और शक्तिशाली उपाय है जो धन और संपत्ति की प्राप्ति में सहायक होता है। यह यंत्र तांबे के पत्र पर तैयार किया जाता है और इसमें विशेष धारणा की जाती है।

यहाँ उल्लिखित नक्षत्रों (रोहिणी, उत्तरा, अश्विनी, पुष्य, अभिजीत, हस्त, मृगा, चित्रा, अनुराधा, रेवती नक्षत्र) में से किसी एक के दिन या तिथि को यंत्र-मंत्र की साधना की जाती है जब नक्षत्र में शक्ति और प्राकृतिक ऊर्जा का बहुत अधिक संचार होता है।

लक्ष्मी प्राप्ति के लिए दत्तात्रेय मंत्र

मंत्र

ॐ श्री दत्तात्रयायनमः
ॐ श्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं ह्रीं फट स्वाहा ||

Om Shree Dattatrayaayanamah
Om Hreem Hreem Hreem Hreem Hreem
Hreem Hreem Hreem Hreem Fatt Swaha ||

लक्ष्मी प्राप्ति हेतु यंत्र को सक्रिय करने के लिए, आपको यंत्र को लकड़ी के बोर्ड पर अपने सामने रखना चाहिए और उसे धूप, दीपक, और लाल रंग के फूलों से सजाना चाहिए।

फिर, छवि में दिखाए गए दत्तात्रेय मंत्र का लगातार 3 माला या 324 मंत्रों की जाप करना चाहिए।

मंत्र पुनरावृत्ति की संख्या को गिनने के लिए किसी भी जप माला का उपयोग किया जा सकता है।

समाप्त में, मंत्र अभिमंत्रित लक्ष्मी प्राप्ति हेतु यंत्र को शुक्रवार या गुरु पुष्य अमृत सिद्धि योग के सबसे शुभ दिन पर अपने घर, दुकान, कार्यालय या व्यावसायिक परिसर में रखना चाहिए।


इसे भी जरूर पढ़े :

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
100% Free SEO Tools - Tool Kits PRO