पावरफुल हनुमान मंत्र | हनुमान जी के सभी शक्तिशाली मंत्र

पावरफुल हनुमान मंत्र |हनुमान जी के शक्तिशाली मन्त्र

हनुमान जी महाराज के चमत्कारी मंत्र और चौपाइयाँ नियमित जप करने से आपको बुद्धि-बल मिलेगा, और आप जीवन में सफलता प्राप्त करेंगे। इन मंत्रों का नियमित जप से आपका जीवन सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंच सकता है। ये मंत्र न केवल आपको असफलता से बचाते हैं, बल्कि किसी भी प्रेत बाधा से भी आपको मुक्ति दिलाते हैं। इन पावरफुल हनुमान मंत्र का नियमित जप करके आप जीवन को सकारात्मक दिशा में मोड़ सकते हैं।

ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय, सर्वशत्रुसंहारणाय, सर्वरोग हराय, सर्ववशीकरणाय, रामदूताय स्वाहा।”

ॐ नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।”

इस मंत्र के जाप से हम हनुमान भगवान की कृपा प्राप्त करते हैं और अपने कार्यों में सफलता की प्राप्ति करते हैं। हम अपने मन, शरीर, और आत्मा को ऊर्जित करते हैं और आर्थिक समस्याओं से मुक्ति प्राप्त करते हैं।

ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकायं हुं फट्

ॐ महाबलाय वीराय चिरंजीविने उद्दते, हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये।
नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।”

हनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल, अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।”

हं हनुमंते नम:।”

इस मंत्र के नियमित जाप से आपका भय नष्ट होता है और आप निर्भीक हो सकते हैं। यह मंत्र आपको ऊर्जा और साहस प्रदान करता है, साथ ही आपको संकटों से बचाने में सहायक होता है। इस भय नाशक मंत्र को नियमित रूप से जप करें और हनुमान भगवान की कृपा प्राप्त करें।

नासै रोग हरे सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत।”

अंतकाल रघुवरपुर जाई, जहां जन्म हरिभक्त कहाई।”

तुम उपकार सुग्रीवहिं कीन्हा, राम मिलाय राज पद दीन्हा।”

भीम रूप धरि असुर सँहारे, रामचंद्र के काज संवारे।”

ॐ ऐं ह्रीं क्लीं श्री रामदूताय नमः।

त्रिकाल दर्शन की प्राप्ति और मनोकामनाओं की पूर्णता के लिए, इस मंत्र का नियमित जाप सुबह, दोपहर, और सांय में किया जाता है। भगवान हनुमान की कृपा से साधक सभी तीनों लोकों में आद्यंतिक दर्शन प्राप्त करता है और उनकी आशीर्वाद से समस्त मनोकामनाएं सिद्ध होती हैं।

ॐ हनुमंते नम:।”

ॐ नमो भगवते पंचवदनाय आंजनेयाय महाबलाय स्वाहा।।

पंचमुखी हनुमान के इस मंत्र का अनुष्ठान ध्यान और उपासना के साथ किया जाता है। “ॐ” से शुरू होने वाला यह मंत्र विशेष शक्ति को धारण करता है और आत्मसाक्षात्कार में मदद करता है। प्रातः और सायंकाल में १०८ बार जप करने से सर्वोत्तम प्रभाव होता है। इस मंत्र का उच्चारण साफ मन से और साधना के विशिष्ट समय में करना लाभकारी है, परंतु इसे बिना मार्गदर्शन के ना इस्तेमाल करें। इसे सिद्ध करने के लिए अनुभवी गुरु की मार्गदर्शन और सुझाव की आवश्यकता है।

“ॐ नमो हनुमते सर्वग्रहान् भूत भविष्यत्-वर्तमानान् दूरस्थ समीपस्यान् छिंधि छिंधि भिंधि भिंधि
सर्वकाल दुष्ट बुद्धानुच्चाट्योच्चाट्य परबलान् क्षोभय क्षोभय मम सर्वकार्याणि साधय साधय।
ॐ नमो हनुमते ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं फट् । देहि ॐ शिव सिद्धि ॐ । ह्रां ॐ ह्रीं ॐ ह्रूं ॐ ह्रः स्वाहा।”

मंत्र सिद्धि के लिए, हनुमानजी के मंदिर में जाकर पंचोपचार पूजा करें, घी का दीपक जलाएं, फूलमालाओं से सजाएं, और गुग्गल की धूप लगाएं। भीगी हुई चने की दाल और गुड़ का प्रसाद लगाकर नीचे दिए गए मंत्र का जप करें। सिद्धि हासिल करने के लिए, 11 दिन तक एक से कम या अधिक माला का जप करें।

ग्यारहवें दिन, पाठ समाप्त होने पर दशमांश हवन करें, ब्राह्मण या योग्य याचक को धन-धान्य दान करें, और निर्मल हृदय से श्रीराम का नाम लेने से सभी प्रकार के सुख और समृद्धि की प्राप्ति होती है।

पावरफुल हनुमान मंत्र List

उद्देश्यमंत्र
संकटों का निवारणॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय, सर्वशत्रुसंहारणाय, सर्वरोग हराय, सर्ववशीकरणाय, रामदूताय स्वाहा।
कर्ज मुक्ति हेतुॐ नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।
मनोकामना पूर्ण करने के लिएॐ महाबलाय वीराय चिरंजीविने उद्दते, हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये। नमो हनुमते आवेशाय आवेशाय स्वाहा।
प्रेत और भूत बाधा से मुक्तिहनुमन्नंजनी सुनो वायुपुत्र महाबल, अकस्मादागतोत्पांत नाशयाशु नमोस्तुते।
भय नाश के लिएहं हनुमंते नम:।
आरोग्य के लिएनासै रोग हरे सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत।
नरक से मुक्तिअंतकाल रघुवरपुर जाई, जहां जन्म हरिभक्त कहाई।
पद प्राप्ति के लिएतुम उपकार सुग्रीवहिं कीन्हा, राम मिलाय राज पद दीन्हा।
विरोधी से बचाव लिएभीम रूप धरि असुर सँहारे, रामचंद्र के काज संवारे।
सुखद जीवन के लिएॐ हनुमंते नम:।
मूल मंत्रॐ हं हनुमते रुद्रात्मकायं हुं फट्
पंचमुखी हनुमान मंत्रॐ नमो भगवते पंचवदनाय आंजनेयाय महाबलाय स्वाहा।।
त्रिकाल दर्शन के लिएॐ ऐं ह्रीं क्लीं श्री रामदूताय नमः।
सर्व सिद्धिॐ नमो हनुमते सर्वग्रहान् भूत भविष्यत्-वर्तमानान् दूरस्थ समीपस्यान् छिंधि छिंधि भिंधि भिंधि
सर्वकाल दुष्ट बुद्धानुच्चाट्योच्चाट्य परबलान् क्षोभय क्षोभय मम सर्वकार्याणि साधय साधय।
ॐ नमो हनुमते ॐ ह्रां ह्रीं ह्रूं फट् । देहि ॐ शिव सिद्धि ॐ । ह्रां ॐ ह्रीं ॐ ह्रूं ॐ ह्रः स्वाहा।

डिसक्लेमर

‘इस लेख में दी गई पावरफुल हनुमान मंत्र की जानकारी की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की कोई गारंटी नहीं है। सूचना विभिन्न स्रोतों से संकलित की गई है और इसका उपयोगकर्ता खुद जिम्मेदार होगा।’

पावरफुल हनुमान मंत्र Pdf


इसे भी पढ़े

Leave a Comment

error: Content is protected !!