करणी बाधा निवारण मंत्र: जानिए और समझिए करणी बाधा के लक्षण

करणी बाधा निवारण मंत्र जानना और इसका प्रयोग करना आजकल काफी महत्वपूर्ण हो गया है। करणी बाधा का अर्थ होता है नकारात्मक ऊर्जा जो किसी व्यक्ति या स्थान पर प्रभाव डालती है। इस तरह की बाधा से ग्रस्त होने पर व्यक्ति की जीवन गुणवत्ता प्रभावित हो सकती है। आइए इस लेख में हम करणी बाधा के लक्षणों और उनके निवारण के उपायों को जानते हैं।

करणी बाधा के लक्षण:

  1. मानसिक अशांति: करणी बाधा के प्रभाव से व्यक्ति मानसिक अशांति महसूस करता है। उसका ध्यान अव्यवस्थित रहता है और वह चिंतित रहता है।
  2. घर में लड़ाई झगड़े: करणी बाधा के प्रभाव से घर के सदस्यों के बीच विवाद और लड़ाई बढ़ जाती है। इससे परिवार में वातावरण बिगड़ सकता है।
  3. पक्षी का बार-बार आना: कई बार करणी बाधा से ग्रस्त स्थान पर पक्षी का बार-बार आना-जाना देखा जाता है। इसे भी एक लक्षण माना जा सकता है।
  4. अपने आसपास के होने का अहसास: इस बाधा से प्रभावित होने पर व्यक्ति को अपने आसपास के होने का अहसास हो सकता है, जिसे वह साया समझता है।
  5. शारीरिक और मानसिक बेचैनी: करणी बाधा से प्रभावित होने पर व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक बेचैनी महसूस हो सकती है। वह अक्सर दर्द, चिंता, और बेचैनी का अनुभव करता है।

करणी बाधा निवारण मंत्र:

यहां हम एक अद्भुत मंत्र प्रस्तुत कर रहे हैं जिसका उपयोग करके आप करणी बाधा से छुटकारा पा सकते हैं:

“सर्वाबाधाविनिर्मुक्तो धन धान्य: सुतान्वित:।
मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यती न संशय:।।”

इस मंत्र का नियमित जाप करने से करणी बाधा से मुक्ति मिल सकती है। यह मंत्र धन, संतान, और समृद्धि को प्राप्त करने में भी सहायक होता है।

करनी बाधा से मुक्ति के उपाय

मंत्र जाप की विधि:

  1. शुक्रवार के दिन सुबह जल्दी उठें।
  2. नित्य कार्यों का समापन करने के बाद, मंदिर में या शांत स्थान पर बैठें।
  3. ध्यान लगाएं और मंत्र का जाप करें, आधे घंटे तक।
  4. मंत्र का जाप करते समय माता दुर्गा करणी से बाधा से निवारण की प्रार्थना करें।
  5. इस क्रिया को सात शुक्रवार तक निरंतर जारी रखें।

इस प्रकार, करणी बाधा से छुटकारा पाने के लिए यह मंत्र आपकी मदद कर सकता है। ध्यान और नियमितता के साथ इसे अपनाएं और पॉजिटिव ऊर्जा को अपने जीवन में आने दें।

निष्कर्ष:

करणी बाधा निवारण मंत्र का नियमित जाप करके आप अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं। ध्यान, श्रद्धा, और नियमितता के साथ इसे अपनाएं और पॉजिटिव ऊर्जा को अपने जीवन में आने दें। यह आपके जीवन को सुखी और समृद्ध बनाने में मदद कर सकता है।

यह भी पढ़े : साईं कष्ट निवारण मंत्र

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock